Business

हाईएस्ट पैकेज वाली इन Jobs के लिए बढ़ी प्रोफेशनल्स की डिमांड

हाईएस्ट पैकेज वाली इन Jobs के लिए बढ़ी प्रोफेशनल्स की डिमांड

हाईएस्ट पैकेज वाली इन Jobs के लिए बढ़ी प्रोफेशनल्स की डिमांड

Jobs:आजकल टेक्नोलॉजी के इस दौर में कई क्षेत्रों में तरक्की हुई है,

तो वहीं नी फील्ड ने अपने पैर जमाए हैं. ऐसे में इन क्षेत्रों के पेशेवरों का करियर लगातर ग्रोथ कर रहा है.

आजकल आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी का बोलबाला है.

इसके अलावा कई ऐसे सेक्टर्स हैं, जिनके प्रोफेशनल्स की डिमांड में लगातार इजाफा हो रहा है.

यह भी पढ़ें :Jobs in Israel: सवा लाख सैलरी, 15 हजार बोनस, UP वालों को लुभा रही इजराइल में नौकरी

आने वाले समय में इन क्षेत्रों में नौकरी की अपार संभावनाएं हैं.

भारत में सभी क्षेत्रों में तेजी से हो रहे विकास के चलते हाईएस्ट पेइंग जॉब्स को बढ़ावा मिल रहा है.

यहां जानिए सबसे ज्यादा पॉपुलर और हाईएस्ट पेइंग नौकरियां के बारे में…

सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट

इस समय आर्किटेक्ट सॉफ्टवेयर की डिमांड है. इस फील्ड में कॉम्पीटिशन भी दूसरे क्षेत्रों की अपेक्षा कम है.

ऐसे में इनके पेशेवरों के पास करियर ग्रोथ का अच्छा मौका है.

सॉफ्टवेयर आर्किटेक्ट की एवरेज एनुअल इनकम 29 लाख रुपये तक होती है.

काम का अनुभव होने के साथ-साथ कमाई और भी ज्यादा बढ़ती जाती है.

डेटा साइंटिस्ट

इस समय डेटा साइंटिस्ट अच्छा खासा पैसा कमा रहे हैं और सबसे अच्छी बात यह है

कि इसके पेशेवरों को बहुत ज्यादा नौकरियां नहीं तलाशना पड़ता है.

व्यापक डेटासेट का एनालिसिस करने वाले डेटा साइंटिस्ट 14 से 25 लाख रुपये

सालाना तक कमाते हैं. एक्सपीरियंस के साथ पैकेज और बढ़ता है.

एआई और एमएल इंजीनियर

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग में विशेषज्ञता रखने वाले युवा इंटेलिजेंट सिस्टम के निर्माण और

डिप्लॉयमेंट में योगदान देते हैं. एआई और एमएल इंजीनियर 11 से 21 लाख रुपये तक सालाना कमाते हैं.

डिजिटल मार्केटर

डिजिटल मार्केटर्स को डिजिटल चैनलों पर ऑनलाइन प्रमोशन में महारत हासिल होती है.

यह भी पढ़ें :Bank Jobs: यहां फाइनेंशियल एनालिस्ट के पदों पर निकली भर्ती, आवेदन के बचे हैं चंद दिन

आजकल इनकी अच्छी खासी डिमांड है. डिजिटल मार्केटर्स सालाना 4-5 लाख रुपये तक कमाते हैं.

साइबर सिक्योरिटी एनालिस्ट

साइबर सिक्योरिटी एनालिस्ट डेटा और सिस्टम के संरक्षक होते हैं.

आजकल इस फील्ड के पेशेवरों की खूब डिमांड है. इनकी सैलरी 6 से 20 लाख रुपये सालाना होती है.

प्रॉम्प्ट इंजीनियर

ऑप्टिमल आउटपुट के लिए क्राफ्टिंग लैंग्वेज मॉडल इनपुट तैयार करते हुए.

प्रॉम्प्ट इंजीनियर सालाना 5 से 10 लाख रुपये तक कमा सकते हैं.

सस्टेनेबिलिटी कंसल्टेंट

पर्यावरण, सामाजिक और आर्थिक प्रदर्शन में सुधार के लिए संगठनों को सलाह देने वाले

सस्टेनेबिलिटी कंसल्टेंट्स सालाना 4-12 लाख रुपये तक कमाते हैं.

 

पूरी खबर देखें

Ajay Sharma

Indian Journalist. Resident of Kushinagar district (UP). Editor in Chief of Computer Jagat daily and fortnightly newspaper. Contact via mail computerjagat.news@gmail.com

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please disable your ad blocker to smoothly open this content.