Thursday, May 30, 2024
-Advertisement-
HomeBusinessBig news for Indian Railways, कमाई बढ़ी; खजाने में आए इतने हजार...

Big news for Indian Railways, कमाई बढ़ी; खजाने में आए इतने हजार करोड़

- Advertisement -

Big news for Indian Railways, कमाई बढ़ी; खजाने में आए इतने हजार करोड़

Big news for Indian Railways:भारतीय रेलवे के ल‍िए राहत भरी खबर है.

रेलवे का कुल राजस्व अगस्त 2022 के अंत में 38 प्रतिशत बढ़कर 95,486.58 करोड़ रुपये हो गया है.

- Advertisement -

यह आंकड़ा एक साल पहले की समान अवधि में 26,271.29 करोड़ रुपये था.

- Advertisement -

इस ह‍िसाब से इस दौरान रेलवे ने 69 हजार करोड़ रुपये का अत‍िर‍िक्‍त्‍ राजस्‍व एकत्र‍ित क‍िया है.

रविवार को एक आधिकारिक बयान में इस बारे में जानकारी दी गई.

Big news for Indian Railways

पिछले साल की तुलना में यात्री यातायात में वृद्धि हुई

रेलवे की तरफ से द‍िए गए आध‍िकार‍िक बयान में कहा गया कि समीक्षाधीन अवधि में

यात्री यातायात से राजस्व 25,276.54 करोड़ रुपये था, जो सालाना आधार पर 116 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है.

एक साल पहले यह आंकड़ा 13,574.44 करोड़ रुपये था. आरक्षित और

अनारक्षित दोनों क्‍लॉस में पिछले साल की तुलना में यात्री यातायात में वृद्धि हुई है.

रेलवे ने कहा कि लंबी दूरी की आरक्षित मेल एक्सप्रेस ट्रेनों की वृद्धि दर उपनगरीय

रेलगाड़ियों की तुलना में अधिक रही है. अन्य कोचिंग राजस्व 2,437.42 करोड़ रुपये रहा,

जो पिछले साल की इसी अवधि की तुलना में 50 प्रतिशत अधिक है. बयान में कहा गया है

कि पार्सल खंड में मजबूत वृद्धि देखी गई. इस साल अगस्त के अंत

तक माल राजस्व 10,780.03 करोड़ रुपये बढ़कर 65,505.02 करोड़ रुपये हो गया.

दूसरी तरफ रेलवे की तरफ से लगातार सेमी हाई स्‍पीड ट्रेनों पर फोकस क‍िया जा रहा है.

फ‍िलहाल आईसीएफ, चेन्‍नई में तैयार हुई तीसरी वंदे भारत ट्रेन का ट्रायल चल रहा है.

जल्‍द ही इसके कमर्श‍ियल रूट पर चलने की आध‍िकार‍िक घोषणा की जाएगी.

सरकार का तरफ से 15 अगस्‍त 2023 तक 75 नई वंदे भारत ट्रेन चलाने का प्‍लान है. इससे रेलवे की आय में और वृद्ध‍ि होगी.

Ajay Sharmahttp://computersjagat.com
Indian Journalist. Resident of Kushinagar district (UP). Editor in Chief of Computer Jagat daily and fortnightly newspaper. Contact via mail computerjagat.news@gmail.com
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular