Business

Sahara India सहारा इंडिया का पैसा भुगतान को लेकर  आई यह बड़ी खबर.. 

Sahara India सहारा इंडिया का पैसा भुगतान को लेकर  आई यह बड़ी खबर.. 

Sahara India सहारा इंडिया का पैसा भुगतान को लेकर  आई यह बड़ी खबर..

Sahara India : IRDAI ने सहारा इंडिया लाइफ को सहारा समूह की कंपनी को बंद करने के निर्देश दिए और पुराने सभी निवेशकों का डाटा SBI LIFE को देने का आदेश दिया. IRDAI ने सहारा इंडिया लाइफ को अपनी गैरकानूनी साजिश के तहत SAT से इस मामले को हासिल कर लिया था, जिसके बाद IRDAI ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. सहारा इंडिया का पैसा भुगतान लेटेस्ट न्यूज

सहारा इंडिया लाइफ का मामला क्या है जानिए

सहारा समूह की लाइफ इन्सुरेंस कंपनी ने निवेशकों से पैसा जमा किया है, लेकिन निवेशकों ने इसकी सुरक्षा और गुणवत्ता पर लगातार सवाल उठाए हैं, इसलिए कंपनी निवेशकों की बात सुनने और समझ नहीं पाई. कंपनी को कई सरकारी दफ्तरों में निवेशकों ने शिकायतें भी की थीं और प्रबंधन और बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स ने जमाकर्ताओं के सवालों पर जवाब नहीं दे पाए थे. IRDAI ने कई बार कंपनी को सुधार करने के लिए कहा था, लेकिन कंपनी में कोई सुधार नहीं हुआ. इसके बाद कंपनी को आईसीआईसीआई को देने का फैसला लिया गया था, लेकिन उस दिशा में कंपनी

बाद में, जून 2023 में सहारा लाइफ को SBI LIFE में शामिल करने का आदेश पारित हो गया, जिसके बाद सहारा SAT पहुंचा और स्टे का आदेश जारी किया. हालांकि, IRDAI ने SAT के फैसले पर सवाल खड़े किए हैं, जिसके खिलाफ IRDAI ने सुप्रीम कोर्ट में भी मामले की जांच के लिए केस फाइल किया था, जो अब सुप्रीम कोर्ट ने मंजूर कर लिया है. इस मामले में अब सुप्रीम.

सहारा इंडिया की यह चार कंपनी बिलकुल भी फिट नहीं

आईआरडीए के एक 2020 के आर्डर के अनुसार सहारा की चार कंपनियों में कई सारी खामिया पाई गई है वही कंपनी के प्रमोटर्स को लेकर भी कई सारे सवाल है जिनने से मुख रूप से सहारा ग्रुप की यह चार कंपनी बिलकुल फिट नहीं पाई गई है.

  •  सहारा इंडिया फाइनेंशियल कॉरपोरेशन (SIFCL)
  •  सहारा केयर लिमिटेड (SCL)
  •  सहारा इंडिया कमर्शियल कॉरपोरेशन लिमिटेड (SICCL)
  •  इंफ्रास्ट्रक्चर और हाउसिंग (एसआईएचएल)

सुप्रीम कोर्ट में सहारा की सुनबाई कब होगी

सुप्रीम कोर्ट ने अब फ़िलहाल IRDAI के स्टे से जुड़े चैलेंजिंग आर्डर को स्वीकार कर लिया है वही अब इस कंपनी को लेकर जो भी फाइनल फैसला होगा वह सुप्रीम कोर्ट निर्धारित करेगा की क्या यह कंपनी को ट्रांसफर किया जाना है की नहीं वही इस मामले की सुनबाई आज यानी की 3 जुलाई 2023 सोमवार कोई हुई थी. वही अगर अगली तारीख की बात करे तो अगली सुनवाई 3 August 2023 को होनी है.

डिस्क्लेमर : इस लेख में दी गई जानकारी आपको इंटरनेट व सोशल मिडिया के आधार पर बताई गई है. Computer jagat news किसी प्रकार का कोई दावा नहीं करती है.

पूरी खबर देखें

Ajay Sharma

Indian Journalist. Resident of Kushinagar district (UP). Editor in Chief of Computer Jagat daily and fortnightly newspaper. Contact via mail computerjagat.news@gmail.com

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please disable your ad blocker to smoothly open this content.