Thursday, May 30, 2024
-Advertisement-
HomeLucknowनए भारत का मॉडल राज्य बनकर उभरा यूपी, सीएम योगी बोले- सिंगल...

नए भारत का मॉडल राज्य बनकर उभरा यूपी, सीएम योगी बोले- सिंगल विंडो सिस्टम से निवेश हुआ आसान

- Advertisement -
नए भारत का मॉडल राज्य बनकर उभरा यूपी, सीएम योगी बोले- सिंगल विंडो सिस्टम से निवेश हुआ आसान

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उत्तर प्रदेश डिजिटल क्रांति का अग्रदूत है। भारत के कुल मोबाइल

कमोनेंट्स का 45 प्रतिशत कार्य यहीं होता है। डेटा कलेक्शन में भी उत्तर प्रदेश अग्रणी हैं। सीएम योगी ने कहा यूपी में

- Advertisement -

असीम संभावनाएं हैं। उत्तर प्रदेश नए भारत का मॉडल राज्य बनकर उभरा है।

- Advertisement -

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अश्वमेधा-एलारा इंडिया डायलॉग-2022 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से

संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने ‘उत्तर प्रदेश मॉडल स्टेट फॉर-फ्यूचर इंडिया’ विषय पर विस्तार से विचार रखे।

मुख्यमंत्री अपने सरकारी आवास से जुड़े। उन्होंने कहा कि पांच वर्ष में उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था सुदृढ़ हुई है।

प्रदेश में कानून का राज है। लेबर और इन्वेस्टर रेग्युलेशन में हमारी सरकार ने 500 से अधिक सुधार किए हैं।

40 विभागों के 1400 कंप्लायन्स निरस्त किए गए हैं। निवेश मित्र के माध्यम से 19 विभागों की 353 सेवाओं को

ऑनलाइन किया गया है। हमने प्रदेश में ऑनलाइन सिंगल विंडो

सिस्टम लागू किया है। इससे उद्यमियों का प्रदेश में निवेश करना आसान हुआ है।

योगी ने कहा कि निवेश बढ़ाने के लिए हम नई औद्योगिक नीति लेकर आ रहे हैं। लैंड बैंक की दिशा में हमने कई सुधार

किए हैं। यूपी में वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलप करने के लिए ईस्टर्न और वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर बना रहे हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में 13 एक्सप्रेस वे हैं, जिसमें से 6 पूर्ण हो चुके हैं और 7 विभिन्न चरणों में हैं। उद्योगों के निर्यात केंद्रों

के लिए निर्बाध वायु कनेक्टिविटी देने के लिए 25 से अधिक वायु मार्ग विकसित कर रहे हैं।

जल मार्ग की दिशा में कार्य करते हुए हमारी सरकार प्रयागराज को हल्दिया से जोड़ रही है।

सीएम ने कहा कि भारत में होने वाले मोबाइल निर्माण में उत्तर प्रदेश की 26 प्रतिशत हिस्सेदारी है। डेटा सेंटर के क्षेत्र

में प्रदेश को काफी संख्या में निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुआ है। साथ ही फूड प्रोसेसिंग, डेयरी, कपड़ा, लॉजेस्टिक और पर्यटन

के क्षेत्र में स्टार्टअप में निवेश को बढ़ाने के लिए एंजल इन्वेस्टर्स और वेंचर कैपिटलिस्ट आगे आ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि वैश्विक निवेश को आकर्षित करने के लिए हम जनवरी

में प्रदेश में ग्लोबल इन्वेस्टर समिट का आयोजन करने जा रहे हैं।

सीएम योगी ने कहा कि आईआईटी कानपुर, आईआईटी बीएचयू और आईआईएम लखनऊ जैसी शैक्षणिक संस्थाएं

प्रदेश में नवाचार को बढ़ा रही हैं। भारत सरकार ने स्टार्टअप के क्षेत्र में उत्तर प्रदेश को अग्रणी राज्य घोषित किया है।

यूपी 25 करोड़ की आबादी का राज्य है। जिसमें 56 प्रतिशत आयु वर्ग कामकाजी है।

वर्ष 2017-2022 तक उत्तर प्रदेश में तीन लाख 44 हजार करोड़ की

परियोजनाएं पूर्ण हो चुकी हैं। इससे प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर 15 लाख 52 हजार रोजगार सृजित हुए हैं।

यूपी में निवेश करने को इच्छुक हैं कई उद्योगपति

वहीं कार्यक्रम में वर्चुअली जुड़े अश्वमेधा-एलारा इंडिया डायलॉग के अध्यक्ष राज भट्ट ने सीएम योगी के कार्यों की

सराहना की। उन्होंने कहा कि सीएम योगी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश को एक नई दिशा मिली है।

आपके प्रयासों से कई उद्योगपति उत्तर प्रदेश में निवेश करने को इच्छुक हैं।

 

Ajay Sharmahttp://computersjagat.com
Indian Journalist. Resident of Kushinagar district (UP). Editor in Chief of Computer Jagat daily and fortnightly newspaper. Contact via mail computerjagat.news@gmail.com
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular