National

An order of the Government of Nepal ने भारतीय एजेंसियों की बढ़ाई चिंता, बार्डर पर तस्‍करी को लेकर हुईं सतर्क

An order of the Government of Nepal ने भारतीय एजेंसियों की बढ़ाई चिंता, बार्डर पर तस्‍करी को लेकर हुईं सतर्क

An order of the Government of Nepal ने भारतीय एजेंसियों की बढ़ाई चिंता, बार्डर पर तस्‍करी को लेकर हुईं सतर्क

An order of the Government of Nepal नेपाल ने एक बार फिर मटर, सुपारी और कालीमिर्च का

आयात खोल दिया है। अब नेपाल में दूसरे देशों से ये सामान मंगाए जाएंगे।

लेकिन इसे लेकर चिंता भारत में बढ़ गई है। वजह, इन सामानों की होने वाली तस्करी है।

तस्करी के शोर के बीच ही पिछले वर्ष नेपाल ने इन सामानों के आयात पर रोक लगाई थी।

दोबारा आयात को हरी झंडी मिलने के बाद तस्करी के जोर पकड़ने को लेकर जांच एजेंसियां सजग हो गई हैं।

कनेडियन मटर की नेपाल से भारतीय क्षेत्र में तस्करी नई बात नहीं है।

कनाडा से मटर सीधे नेपाल आयात की जाती है। फिर वहां से

चोरी-छिपे खुली सीमा का लाभ लेकर भारतीय क्षेत्र में पहुंचा दी जाती है।

भारी बारिश में डूबे लखनऊ के कई इलाके, कमिश्‍नर ने घुटनों तक पानी में पैदल चल लिया जायजा

वहीं सुपारी व कालीमिर्च की तस्करी भी बड़े पैमाने पर होती रही है।

नेपाल से भारत में तस्करी के बढ़े मामलों और शोर के बाद नेपाल सरकार ने पिछले वर्ष इनके आयात पर रोक लगा दी

थी। वहीं, खुली सीमा का लाभ उठाकर भारत से खाद और डीजल की तस्करी नेपाल में होती है।

आयात के लिए हुआ नोटिफिकेशन उद्योग, वाणिज्य और आपूर्ति मंत्रालय के अनुसार सरकार ने एचएस कोड

0713.10.00 मटर, एचएस कोड 0802.80.00 सुपारी और एचएस कोड 0904.11.30 कालीमिर्च के आयात की

अनुमति देने का फैसला किया है। नेपाल में 21 अगस्त को प्रकाशित गजट में इसका नोटिफिकेशन हुआ है,

लेकिन प्रकाशन दो दिन पहले हुआ है। कहा जा रहा है कि औद्योगिक उद्देश्यों के लिए ये वस्तुएं कच्चे माल के रूप में आयात की जाएंगी।

तस्करी के लिए मांग से अधिक होता है आयात नेपाल में इन वस्तुओं को जरूरत से बहुत

अधिक मात्रा में आयात किया जाता है। भारत के मुकाबले नेपाल में ये बहुत सस्ती होती है।

पूरी खबर देखें

Ajay Sharma

Indian Journalist. Resident of Kushinagar district (UP). Editor in Chief of Computer Jagat daily and fortnightly newspaper. Contact via mail computerjagat.news@gmail.com

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please disable your ad blocker to smoothly open this content.