Thursday, May 30, 2024
-Advertisement-
HomePoliticsSubhasp chief OP Rajbhar का अपने ही इलाके में घुसना मना, राजभर...

Subhasp chief OP Rajbhar का अपने ही इलाके में घुसना मना, राजभर बस्ती के लोगों ने लगाया नो एंट्री का बैनर

- Advertisement -

Subhasp chief OP Rajbhar का अपने ही इलाके में घुसना मना, राजभर बस्ती के लोगों ने लगाया नो एंट्री का बैनर

Subhasp chief OP Rajbhar की मुश्किलें अपने ही इलाके में बढ़ती दिखाई दे रही हैं।

वाराणसी से लेकर गाजीपुर और मऊ से लेकर बलिया तक उनके सहयोगी पार्टी छोड़ रहे हैं।

- Advertisement -

राजभर को सबसे बड़ा झटका मऊ में लगा था। अब उसी मऊ में उनके खिलाफ बैनर लग गया है।

- Advertisement -

राजभर बस्ती में लगे बैनर में ओपी राजभर की एंट्री बैन करने का संदेश लिखा गया है।

बैनर पर साफ साफ लिखा है कि ओमप्रकाश राजभर को उक्त राजभर बस्ती में जाना मना है।

मऊ की घोसी तहसील के पिढवल क्षेत्र के लाखीपुर गांव के तिलई

मौजे के मुख्य द्वारा पर लगा यह बैनर चर्चा का विषय बना हुआ है।

ओमप्रकाश राजभर अपने बिखरते जनाधार को बचाने के लिये जगह जगह जनसम्पर्क अभियान चला रहे हैं।

अगले माह अक्टूबर में 18 तारीख को लाखीपुर में उनकी जनसभा का कार्यक्रम प्रस्तावित है।

समाजवादी पार्टी से गठबंधन टूटने के बाद उनकी पार्टी में मची भगदड अभी खत्म भी नहीं हुई थी

की मऊ में 18 तारीख को होने वाली जनसभा से पहले उन्हें एक और तगडा झटका लगा है।

स्थानीय तहसील इलाके के लाखीपुर के मौजा तिलई के राजभर बस्ती के ग्रामीणों ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया

है और रैली से पहले गांव के मुख्य द्वारा पर उनके खिलाफ बैनर लगा दिया है। बैनर पर लिखा है

कि सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर को राजभर बस्ती में जाना मना है।

सामाजिक संगठन जनमत मोर्चा के अध्यक्ष मनोज राजभर के नेतृत्व में बैनर लगाया गया है।

मोर्चा के अध्यक्ष मनोज राजभर ने ऐसा बैनर लगाये जाने के सवाल पर कहा कि ओमप्रकाश राजभर ने राजभर समाज

को ठगने का काम किया है। मनमाने तरीके से किसी भी दल से गठबंधन कर राजभर समाज का वोट लेकर ओमप्रकाश

राजभर ने राजभर समाज को गर्त में धकेलने व स्वयं के लाभ के लिये

अपना स्तर गिराने का काम किया है। राजभर समाज अब ओपी राजभर को सहन नहीं करेगा।

Ajay Sharmahttp://computersjagat.com
Indian Journalist. Resident of Kushinagar district (UP). Editor in Chief of Computer Jagat daily and fortnightly newspaper. Contact via mail computerjagat.news@gmail.com
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular