Uncategorized

wedding in Tajnagri रचाने सात समंदर पार से आया मैक्सिकन जोड़ा, हिंदू-रीति रिवाज से लिए सात फेरे

wedding in Tajnagri रचाने सात समंदर पार से आया मैक्सिकन जोड़ा, हिंदू-रीति रिवाज से लिए सात फेरे

wedding in Tajnagri रचाने सात समंदर पार से आया मैक्सिकन जोड़ा, हिंदू-रीति रिवाज से लिए सात फेरे

wedding in Tajnagri:कहते हैं कि जोड़ी तो आसमान में बनती है, धरती पर तो इसे परवान चढ़ाया जाता है.

कुछ ऐसा ही मैक्सिकन जोड़े के साथ हुआ है. मुलाकात मैक्सिको सिटी में हुई,

पहली नजर में एक दूसरे को दिल दे बैठे, 10 साल के तक एक दूसरे को जाना, लिव इन रिलेशनशिप में रहे.

जब शादी का फैसला किया तो याद आ गई भारतीय परंपरा और रीति रिवाज.

जी हां तो किसी फिल्मी कहानी की तरह से मैक्सिकन नागरिक क्लाउडिया और सार्जियो के साथ हुआ है.

दोनों ने सात समन्दर पार जाकर शादी करने का फैसला किया.

ताजनगरी आगरा मैक्सिकन नागरिक क्लाउडिया और सार्जियो की शादी का गवाह बनी.

दरअसल क्लाउडिया और सार्जियो ने इंडिया आकर शादी करने का फैसला किया.

इसके लिए मोहब्बत की निशानी ताज़महल के शहर आगरा को चुना.

यही वजह थी कि मैक्सिकन जोड़े ने ताजनगरी में हिंदू रीति-रिवाज से शादी के सात फेरे लिए.

शिव मंदिर में उन्होंने अग्नि को साक्षी मानकर सात फेरे लिए और

एक-दूसरे का हाथ थामकर सात जन्मों तक साथ निभाने का वादा किया.

बकौल क्लाउडिया, वो और सार्जियो 10 साल तक लिव इन रिलेशनशिप में रहे,

इसके बाद दोनों ने शादी का फैसला किया. वो दोनों सात सितंबर को इंडिया आए थे.

आगरा आकर दोनों ने आगरा के गौरव गुप्ता से संपर्क कर इच्छा जताई

कि दोनों हिंदु रीति-रिवाज से शादी करना चाहते हैं. गौरव ने फतेहाबाद रोड स्थित शिव मंदिर में

उनकी शादी का पूरा इंतजाम कराया. 13 सितंबर को हुए समारोह में मैक्सिको से 20 सदस्यीय दल आगरा आया.

इसके अलावा आगरा से 25 शुभचिंतक शादी में शामिल हुए औऱ वर वधु को आशीर्वाद दिया.

इंडियन कल्चर ने किया आकर्षित

क्लाउडिया बताती हैं कि वे भारतीय संस्कारों से बेहद प्रभावित हैं, वह पहले भी भारत आ चुकी थीं.

तब काशी जाकर उन्हें भारतीय परंपरा से विशेष लगाव हो गया था. तभी उन्होंने डिसाइड कर लिया था कि

शादी हिंदू रीति-रिवाज से करेंगी. यही वजह थी कि आगरा आकर

उन्होंने अग्नि को साक्षी मानकर सात फेरे लिए जिससे उनका रिश्ता सात जन्मों तक अमर हो गया.

वैदिक मंत्रोच्चार से सम्पन्न हुआ विवाह

शिव मंदिर तक नाचते गाते हुए दूल्हा बने सार्जियो पहुंचे. जहां से पर दुल्हन बनी

क्लाउडिया उनका इंतजार कर रही थीं. जैसे ही दोनों मंडप पर बैठे,

मौके पर मौजूद पंडित जी ने वैदिक मंत्रोच्चार प्रारंभ कर दिया.

पंडित ने पूरे मंत्रोच्चारण के बीच उन्हें सात फेरे दिलाए. क्लाउडिया लाल जोड़े में सजी थीं,

जबकि सार्जियो क्रीम कलर की शेरवानी और साफा में गजब ढाह रहे थे. इधर दोनों की शादी में शामिल होने मैक्सिको से

आये मेहमान भी भारतीय परम्परा को देख कर हैरान थे औऱ वे काफी प्रभावित भी नजर आए.

पूरी खबर देखें

Ajay Sharma

Indian Journalist. Resident of Kushinagar district (UP). Editor in Chief of Computer Jagat daily and fortnightly newspaper. Contact via mail computerjagat.news@gmail.com

संबंधित खबरें

Adblock Detected

Please disable your ad blocker to smoothly open this content.