Thursday, May 30, 2024
-Advertisement-
HomeStateBiharWoman dies in tiger attack:बाघ के हमले में महिला की मौत के...

Woman dies in tiger attack:बाघ के हमले में महिला की मौत के बाद फूटा गुस्सा, बोले आदिवासी- कब तक जंगली जानवरों का निवाला बनेंगे

- Advertisement -

Woman dies in tiger attack:बाघ के हमले में महिला की मौत के बाद फूटा गुस्सा, बोले आदिवासी- कब तक जंगली जानवरों का निवाला बनेंगे

 प्रकाश राज की रिर्पोट… 

Woman dies in tiger attack:बिहार के बगहा में सोमवार को बाघ के हमले में एक महिला की जान चली गई.

- Advertisement -

यह घटना बगहा के वाल्मिकी टाईगर रिजर्व से सटे हरनाटाड़ वनक्षेत्र अंतर्गत लौकरिया थाना क्षेत्र के बैरिया काला गांव की है.

- Advertisement -

इस घटन के बाद से उस इलाके के स्थानीय आदिवासी समुदाय में आक्रोश व्याप्त है.

आक्रोशित आदिवासियों ने महिला के शव के साथ मंगलवार को प्रदर्शन किया.

आदिवासियों ने शव के साथ किया प्रदर्शन

हरनाटाड़ वनक्षेत्र में थारू आदिवासियों की बहुलता है. बाघ के हमले में मारी गई

महिला के शव के साथ थारू समुदाय के आदिवासियों ने प्रदर्शन किया.

शव के साथ लोगा सड़क पर उतर गए. थारू आदिवासी समुदाय के लोगों ने वन विभाग के खिलाफ हल्ला बोल दिया.

आदिवासियों का कहना है कि आखिरकार कब तक हमलोग बाघों का निवाला बनते रहेंगे.

यहां कई बार बाघ लोगों पर हमला कर चुके हैं. अब तक आधा दर्जन लोगों की जान बाघ के हमले में जा चुकी है.

इसी कड़ी में कल लौकरिया थाना क्षेत्र के बैरिय कला में खेत में काम कर रही महिला की बाघ के हमले में जान चली गई.

दो महीने में दो लोगों की बाघ के हमले में गई जान

ग्रामीणों ने बताया कि बाघ के हमले में बैरिया कला गांव में दो माह के भीतर यह दूसरी मौत हुई है.

यही वजह है कि लोगों वन विभाग का विरोध कर रहे हैं. लोगों ने कहा कि दो लोगों की मौत हो गई है.

इसके बावजूद भी वन विभाग की ओर से वनकर्मियों की कोई पेट्रोलिंग नहीं कराई जाती है.

बैरिया गांव आये दिन बाघों की चहलकदमी होती रहती है. इससे लोगों में डर का माहौल बना रहता है.

ग्रामीणों का आरोप है कि वन विभाग घटना के बाद एक दो दिनों तक पेट्रोलिंग कराकर खानापूर्ति कर देता है.

इधर, लौकरिया थानाध्यक्ष अभय कुमार ने बताया की घटनास्थल पर पुलिस टीम पहुंच गई

और वन विभाग की टीम के आने के बाद घटनास्थल से महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा.

गश्ती में लापरवाही करने वाले पर होगी कार्रवाई

इस संबंध में वीटीआर के वन संरक्षक सह क्षेत्र निदेशक डाॅ. नेसामणी के ने बताया कि

हरनाटाड़ वनक्षेत्र के बैरिया में बाघ के हमला में महिला की मौत की सूचना मिली है.

इस सूचना को गंभीरता से लेते हुए हरनाटाड़ वनक्षेत्र अधिकारी के नेतृत्व में

वनकर्मियों की टीम को घटनास्थल पर भेजा गया. साथ ही घटना के जांच का निर्देश दिया गया है.

निदेशक ने बताया कि गश्ती में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई की

जायेगी.साथ ही वनक्षेत्र अधिकारियों के नेतृत्व मे पेट्रोलिंग बढ़ाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया है.

क्या है पूरा घटना

वाल्मीकि वन प्रमंडल दो के हरनाटाड़ वनक्षेत्र अंतर्गत बैरिया काला गांव में बाघ ने एक महिला पर हमला कर दिया था.

इसमें महिला की मौके पर ही मौत हो गई थी. गौरतलब है कि, महिला खेत में सोहनी करने गई थी.

तभी बाघ ने हमला किया. वन विभाग के अधिकारी सूचना देने के बावजूद मौके पर नहीं पहुंचे.

लिहाजा ग्रामीणों में इस बात को लेकर आक्रोश है. वाल्मिकी टाईगर रिजर्व क्षेत्र से सटे बैरिया कला गांव में 45 वर्षीय

बैरिया निवासी गुलबंदी देवी पर बाघ ने हमला कर दिया था. इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी.

Ajay Sharmahttp://computersjagat.com
Indian Journalist. Resident of Kushinagar district (UP). Editor in Chief of Computer Jagat daily and fortnightly newspaper. Contact via mail computerjagat.news@gmail.com
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular